कुबेर जी की आरती Pdf | Kuber Aarti In Hindi Pdf Download

Kuber aarti in hindi pdf download

[INSERT_ELEMENTOR id=”3567″]

क्या आप Kuber aarti in hindi pdf download करके अपने घर में कुबेर जी की आरती करना चाहते हो यदि हाँ तो आप बिलकुल सही जगह पर हैं क्योंकि आज की इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको Kuber aarti in hindi pdf download करने का डायरेक्ट लिंक देने वाला हूँ.

दोस्तों के अलावा यहां पर आपको कुबेर जी की हिंदी में आरती की(Kuber Aarti Lyrics in Hindi) भी देखने को मिल जाती है यदि आपने पढ़ना चाहे तो आराम से नहीं पढ़ सकते हैं क्योंकि भगवान जी की आरती पढ़ने के काफी सारे लाभ होते हैं और इससे आपके घर में धन की वर्षा भी होती है.

PDF Nameकुबेर आती/Kuber Aarti
QualityBest
LanguageHindi
Size४४१KB
CategoryReligion
Download StatusAvailable
Kuber aarti in hindi pdf download

कुबेर जी की आरती PDF

दोस्तों जैसा कि आपको पता ही होगा कि श्री कुबेर जी कि जिन पर कृपा हो जाती है उनके घर में धन की वर्षा हमेशा होती रहती है श्री कुबेर आरती भगवान कुबेर को समर्पित करने से बहुत सारे लाभ होते हैं.

इस आरती का यदि रोजाना गायन किया जाए तो धन वर्षा होती रहती है कुबेर भगवान को धन का दाता कहा जाता है और दोस्तों यदि आप इसका पाठ रोज कर लेते हैं और उसके बाद आप कुबेर चालीसा का भी पाठ कर सकते हैं इससे कुबेर भगवान और भी अधिक प्रसन्न होते हैं और आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होने देते हैं.

कुबेर जी की आरती हिंदी में

कुबेर जी की आरती हिंदी में निम्नलिखितहैं आप इसका पाठ कर सकते हैं:-

Kuber Aarti Lyrics in Hindi

श्री कुबेर आरती “ॐ जय कुबेर स्वामी”

ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |
हे समरथ परिपूरन, हे समरथ परिपूरन, हे अंतरयामी |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |
हे समरथ परिपूरन, हे समरथ परिपूरन, हे अंतरयामी |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

विश्रवा के लाल इदविदा के प्यारे, माँ इदविदा के प्यारे |
कावेरी के नाथ हो, कावेरी के नाथ हो, शिवजी के दुलारे |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

मणिग्रावी मीनाक्षी देवी, नलकुबेर के तात, प्रभु नलकुबेर के तात |
देवलोक में जागृत, देवलोक में जागृत, आप ही हो साक्षात |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

रेवा नर्मदा तट शोभा अतिभारी, प्रभु शोभा अतिभारी |
करनाली में विराजत, करनाली में विराजत, भोले भंडारी |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

वंध्या पुत्र रतन और निर्धन धन पाये, सब निर्धन धन पाये |
मनवांछित फल देते, मनवांछित फल देते, जो मन से ध्याये |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

सकल जगत में तुम ही, सब के सुखदाता, प्रभु सब के सुखदाता |
दास जयंत कर वंदे, दास जयंत कर वंदे, जाये बलिहारी |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |
हे समरथ परिपूरन, हे समरथ परिपूरन, हे अंतरयामी |
ॐ जय कुबेर स्वामी, प्रभु जय कुबेर स्वामी |

। इति श्री कुबेर आरती सम्पूर्णम।

कुबेर आरती PDF(Kuber Aarti PDF in Hindi)

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे,स्वामी जै यक्ष जै यक्ष कुबेर हरे।

शरण पड़े भगतों के,भण्डार कुबेर भरे॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

शिव भक्तों में भक्त कुबेर बड़े,स्वामी भक्त कुबेर बड़े।

दैत्य दानव मानव से,कई-कई युद्ध लड़े॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

स्वर्ण सिंहासन बैठे,सिर पर छत्र फिरे, स्वामी सिर पर छत्र फिरे।

योगिनी मंगल गावैं,सब जय जय कार करैं॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

गदा त्रिशूल हाथ में,शस्त्र बहुत धरे, स्वामी शस्त्र बहुत धरे।

दुख भय संकट मोचन,धनुष टंकार करें॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

भांति भांति के व्यंजन बहुत बने,स्वामी व्यंजन बहुत बने।

मोहन भोग लगावैं,साथ में उड़द चने॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

बल बुद्धि विद्या दाता,हम तेरी शरण पड़े, स्वामी हम तेरी शरण पड़े

अपने भक्त जनों के,सारे काम संवारे॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

मुकुट मणी की शोभा,मोतियन हार गले, स्वामी मोतियन हार गले।

अगर कपूर की बाती,घी की जोत जले॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

यक्ष कुबेर जी की आरती,जो कोई नर गावे, स्वामी जो कोई नर गावे।

कहत प्रेमपाल स्वामी,मनवांछित फल पावे॥

ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥

श्री कुबेर पूजन मंत्र PDF(Kuber Mantra PDF in Hindi)

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धन धान्याधिपतये

धन-धान्यं स्मृद्धि देहि दापय दापय स्वाहा।

Kuber aarti in hindi pdf download

दोस्तों अगर आप Kuber aarti in hindi pdf download करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको बहुत आसानी से डाउनलोड करने का नीचे डाउनलोड बटन दिया गया है जिस पर क्लिक करके आप अपने फोन में कंप्यूटर में कुबेर जी की आरती Pdf डाउनलोड करके इसका पाठ करना शुरू कर सकते हैं और इसके लाभ उठा सकते हैं जिससे आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होगी.

[INSERT_ELEMENTOR id=”3567″]

[adfoxly place=’3961′]

Download Now

[adfoxly place=’3961′]

FAQs

कुबेर देव को कैसे खुश करें?

कुबेर देव को प्रसन्न करने के लिए रोजाना उनकी आरती का पाठ करें और जब भी उनकी आरती का पाठ करें तो ध्यान रखें क्यों उनके निवास का स्थान उत्तर पूर्व दिशा में और एक साफ-सुथरी जगह पर होना चाहिए और उनकी पूजा करने से पहले वहां पर गंगाजल का छिड़काव भी करना चाहिए इस तरह से कुबेर देव प्रसन्न होते हैं.

कुबेर जी की पूजा कैसे की जाती है?

कुबेर भगवान की पूजा धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि के बाद भगवान कुबेर की पूजा की जाती है इस समय कुबेर यंत्र दक्षिण दिशा में स्थापित करें और गंगाजल के साथ विनियोग मंत्र का जाप करें.

कुबेर जी को क्या चढ़ाना चाहिए?

 जब भी आप कुबेर देव की पूजा करें तो उनके स्थान पर गंगा जल चढ़ाकर रोली चावल से तिलक करें पोस्ट चढ़ाएं दीप जलाकर भोग लगाए.

कुबेर जी का बीज मंत्र क्या है?

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेश्वराय नमः॥

Conclusion

दोस्तों आज के इस लेख के माध्यम से मैंने आपको Kuber aarti in hindi pdf download उपलब्ध कराया है यदि आपने इसे अभी तक डाउनलोड नहीं किया है तो अपने होने कंप्यूटर में आप कुबेर जी की आरती PDF आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड करने का लिंक ऊपर दिया गया है.

जैसे आप डाउनलोड वाली बटन पर क्लिक करेंगे वैसे ही यह आपके फोन में कंप्यूटर में डाउनलोड होने लगेगा इसके बाद में आप जब चाहे तब उसका पाठ कर सकते हैं और अपने श्री कुबेर भगवान को प्रसन्न करके अपने घर में धन की वर्षा का करा सकते हैं

और दोस्तों अगर आपको यह Kuber aarti in hindi pdf download करने में किसी प्रकार की समस्या आती है तो आप नीचे कमेंट में बता सकते हैं आपकी समस्या का समाधान करने की पूरी कोशिश करेंगे धन्यवाद!

Sharing Is Caring:

Leave a Comment