भगवद गीता यथारूप PDF | Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download

Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download

क्या आप भी एक कृष्ण प्रेमी हैं और आप Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download करना चाहते हैं जिससे आप भी भगवद गीता यथारूप PDF का सम्पूर्ण अमूल्य ज्ञान प्राप्त कर सके यदि हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर हैं आज के इस लेख में मैं आपको Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download लिंक देने वाला हूँ.

दोस्तों जैसा की आपको पता ही होगा की हिन्दू धर्म की सबसे प्रसिद्द और सबसे जीवन को बदलने वाली पुस्तक हैं इस पुस्तक में हमारे सभी प्रश्नों का हल मिलता हैं. यदि आप अपने जीवन में किसी भी समस्या से जूझ रहे हैं तो आपको एक बार भगवद गीता यथारूप PDF जरूर पढना चाहिए.

Book Nameभगवद गीता यथारूप/Bhagwat Geeta Yatharoop
Writer?
Pages728
FiletypePDF
LanguageHindi
Size14MB
Download StatusAvailable
Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download

भगवद गीता यथारूप PDF

Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download

 दोस्तों भगवत गीता संसार के सबसे प्राचीन जीवन संस्कृति भारत की महान धार्मिक सभ्यता का एक बहुत ही पुराना सहित प्रमाण है जो आज के समय में सभी का पसंदीदा है इसके अलावा यह एक ऐसा ग्रंथ है जो मनुष्यों की हर एक प्रकार की समस्या का समाधान करता है.

गीता का मेन उद्देश्य है कि मनुष्य को अपने जन्म मरण के सत्य को जान लेना चाहिए और इसे मान लेना चाहिए क्योंकि पृथ्वी में जो भी आया है उसका अंत निश्चित है

जब हमें पता होता है कि हमें 1 दिन मर जाना है और यहां से चले जाना है तो हमें अपने कर्तव्य को अच्छा रखना चाहिए लोगों का भला करना चाहिए और ईश्वर की भक्ति में लीन रहना चाहिए 

भगवत गीता में इंसान को सिर्फ एक कपड़े के समान बताया गया है

जिसमें आत्मा निवास करती है और जब यह आत्मा शरीर को छोड़कर चली जाती है तो आपका शरीर एक कपड़े के समान ही हो जाता हैऔर जब आत्मा को दूसरा जाना मिल जाता है तो वह दूसरे शरीर मैं बस जाती है इस तरह से आत्मा शरीर को इस प्रकार बदलती है जिस प्रकार इंसान कपड़ों को बदलता है 

क्योंकि आत्मा अजय रहे अमर रहे इंसान की मृत्यु होती है परंतु कभी आत्मा की मृत्यु नहीं होती है आत्मा का एक शरीर से दूसरे शरीर में परिवर्तन होता है यही अटल सच है इसको किसी भी प्रकार से नकारा नहीं जा सकता.

इसमें हमें बताया जाता है कि हमें क्रोध को काबू में रखना चाहिए क्योंकि यह क्रोध थोड़े समय के लिए आता है परंतु जब आता है तो यह बहुत कुछ ऐसा कर जाता है.

जिसका खामियाजा हमें पूरी जिंदगी भर भुगतना पड़ता है तो क्रोध को अपने काबू में रखें और क्रोध में कोई भी निर्णय ना ले क्रोध में लिया गया निर्णय कभी सही नहीं होता.

 निर्णय लेने का सबसे सही तरीका है आप जब एकदम शांत हो इसके बाद में ही निर्णय लें तभी वह निर्णय एक सही निर्णय होगा अर्थात यह आपका जीवन भी बर्बाद कर सकता है.

और व्यक्ति इस पृथ्वी लोक में जो पीकर करता है उसको उसका फल मिलता है यदि वह अच्छा कर्म करेगा तो उसे अच्छे फल मिलेंगे ठीक इसी के उल्टा अगर यदि कोई व्यक्ति गलत काम करता है और गलत तरीकों का इस्तेमाल करता है

तभी उसको उसका परिणाम मिलेगा और एक ना एक दिन उसको उसकी सजा भी मिले तो आप लोग हमेशा अच्छे काम करिए और हमेशा सच्चाई और अच्छाई का साथ दीजिए इससे आपका जीवन सफल हो.

भगवद गीता अध्याय

भगवत गीता में कुल मिलाकर 18 अध्याय हैं और उनमें 720 लोग हैं वे सभी अध्याय निम्नलिखित हैं  जो आपको भगवत गीता के ग्रंथ में देखने को मिलते हैं

  • कुरुक्षेत्र के युद्ध स्थल में निरीक्षण
  • गीता का सार
  • कर्म योग
  • कर्म योग कृष्ण भावना भावती कर्म
  • ध्यान योग
  •  भगवद ज्ञान
  •  भगवद प्राप्ति
  •  परम गुरु  ज्ञान
  •  श्री भगवान का  ऐश्वर्य
  •  विराट रूप
  •  भक्ति योग
  •  प्रकृति पुरुष तथा चेतना
  •  प्रकृति के तीन गुण
  •   पुरुषोत्तम योग
  •  देवी तथा स्त्री स्वभाव
  •  श्रद्धा के विभाग
  •  उप संघार सन्यास की सिद्धि

जब आप भागवत गीता को प्रणाम शुरू करेंगे तो आपको यह सभी अध्यायों के बारे में संपूर्ण जानकारी मिलेगी

Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download

दोस्तों यदि आप Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download करना चाहते हैं तो इसके लिए बस आपको निचे दी गयी डाउनलोड बटन कर क्ल्सिक करना है और भगवद गीता यथारूप PDF डाउनलोड होना शुरू हो जाएगी इसके आप अपने फ़ोन या कंप्यूटर में डाउनलोड करके पढ़ सकते हैं

[adfoxly place=’3961′]

Download Now

[adfoxly place=’3961′]

जिसे आप आज से ही पढना शुरू कर सकते हैं और एक महान की का ऐसा ज्ञान जो आपको कही और नहीं मिलेगा वो आप इससे प्राप्त कर सकते हैं और इसमें आपकी सभी समस्याओ का हल भी दिया गया हैं जो आपकी समस्याओं का अंत कर देना और आपको एक खुशी जीवन जीने के लिए प्रेरित करेंगा.

FAQs

गीता में कुल कितने अध्याय हैं?

गीता में 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं जो की बहुत ही महत्वपूर्ण हैं.

गीता में आत्मा के बारे में क्या लिखा है?

गीता में श्रीकृष्ण ने आत्मा को अमर और अविनाशी बताया है जिसे न शस्त्र कट सकता है, पानी इसे गला नहीं सकता, अग्नि इसे जल नहीं सकती, वायु इसे सोख नहीं सकती।

गीता में सबसे महत्वपूर्ण पाठ क्या है?

गीता में सबसे महत्वपूर्ण पाठ यह है की आप अपना कर्म करें और फल की चिंता न करें क्योंकि वो आपको समय आने पर मिल जायेगा.

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट में आपको मैं Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download लिंक दिया हैं जिसका उपयोग करके आप अपने फ़ोन या कंप्यूटर में भगवद गीता यथारूप PDF को डाउनलोड करके आज से ही पढना शुरू कर सकते हैं.

इसमें आपको भगवत गीता का पूरा असली यथा रूप देखने को मिलेगा इसको किसी भी प्रकार से ट्रांसलेट नही किया गया हैं जिस प्रकार भगवान् श्री कृष्ण ने कहा था पूरा का पूरा वैसा ही आपको दिखने को मिलने वाला हैं.

यदि आपने अभी तक Bhagwat Geeta Yatharoop In Hindi Pdf Download नही किया हैं तो ऊपर दी गयी डाउनलोड बटन की मदद से आप इस डाउनलोड कर सकते हैं.

यदि आपको डाउनलोड करने में किसी भी प्रकार की समस्या आती हैं तो निचे कमेंट्स में बता सकते हैं तो मियन आपकी सभी समस्याओ को हल करने की पूरी कोसिस करुंगे जिससे की आपको भगवद गीता यथारूप PDF को डाउनलोड करने में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment